निघासनी  मांगों पर अड़े लेखपालों का कार्य बहिष्कार व धरना-प्रदर्शन बृहस्पतिवार को तीसरे दिन भी जारी रहा। पढ़िए लखीमपुर खीरी जिला संवाददाता विकास वर्मा के साथ

लखीमपुर खीरी से जिला संवाददाता विकास वर्मा की रिपोर्ट

निघासन लेखपालों ने साफ कहा है कि जब तक उनकी मांगों के संबंध में शासनादेश जारी नहीं किया जाता, तब तक आंदोलन वापस नहीं लिया जाएगा।
बृहस्पतिवार को निघासन तहसील परिसर में  आयोजित धरना-प्रदर्शन की अध्यक्षता अध्यक्ष जगदीश प्रसाद मंत्री अजय कुमार ने कार्यक्रम की विस्तृत रूपरेखा प्रस्तुत की। लेखपालों ने निरंतर तीसरे  दिन तक कार्य बहिष्कार  करते हुये कहा कि हम शासन-प्रशासन से अपनी न्याय संगत मांगे मनवाने के काफी करीब हैं। जगदीश प्रसाद  ने कहा कि लक्ष्य प्राप्ति के लिए हम लोग चरणबद्ध आंदोलन कर रहे हैं। जरूरत पड़ने पर आमरण अनशन एवं जेल भरो आंदोलन भी किया जाएगा। अजय कुमार मंत्री ने कहा  की ई डिस्ट्रिक्ट ई गवर्नेंस एवं डिजिटल इंडिया को क्रियान्वित करने के लिए खतौनी आय जात निवास प्रमाण पत्र नक्शा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना आदि समस्त कार्य कंप्यूटरीकृत अब ऑनलाइन कर दिए गए जिसके लिए उत्तर प्रदेश शासन द्वारा लेखपालों को लैपटॉप उपलब्ध कराने एवं भारत सरकार द्वारा स्मार्टफोन उपलब्ध कराने का निर्णय लिया जा चुका है जिसके लिए बजट 2 वर्ष से पड़ा है किंतु खरीदारी ना होने के कारण आज तक लेखपालों को लैपटॉप और स्मार्टफोन उपलब्ध नहीं कराए गए हैं लेखपाल चार पांच वर्षो से अपने निजी पैसे से उक्त कार्यों का संपादन कर रहे हैं जो कि अब अधिक दिनों तक  किया जाना संभव नही है इसलिए सरकार जब तक हमारी मांगों को नहीं मान लेती तब तक अनिश्चित काल धरना जारी रहेगा इस मौके पर लवण कुमार दिलीप कुमार राजेश कुमार सतीश कुमार ज्योति प्रकाश रोली देवी अंबालिका आदि लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *