टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत, अफगानिस्तान को पारी और कितने रनों से रौंदा, देखें 

अपने पहले अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट मैच में अफगानिस्तान को भारत के हाथों पारी और 262 रनों से हार मिली है। अफगानिस्तान की टीम दो दिन से ज्यादा खेल के सबसे लंबे प्रारूप में टिक नहीं सकी और दूसरे दिन शुक्रवार को ही अपनी दोनों पारियों में ऑल आउट हो गई। भारत ने पहली पारी में शिखर धवन (107), मुरली विजय (105), हार्दिक पांड्या (71) और लोकेश राहुल (54) की बेहतरीन पारियों के दम पर 474 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था। अफगानिस्तान को दूसरे दिन के दूसरे सत्र में अपनी पहली पारी खेलने का मौका मिला, जिसमें वह 27.5 ओवरों में महज 109 रनों पर ढेर हो गई। भारत ने पहली पारी के आधार पर 365 रनों की बढ़त ले ली थी और मेहमान टीम को फॉलोऑन के लिए आमंत्रित किया।

दूसरी पारी खेलने उतरी अफगानिस्तान के बल्लेबाज एक बार फिर टेस्ट की नंबर-1 टीम भारत के गेंदबाजों के सामने 38.4 ओवरों में 103 रनों पर ही ढेर हो गए और इस तरह अफगानिस्तान को अपने पदार्पण टेस्ट मैच में हार का सामना करना पड़ा। यह भारत की टेस्ट में दो दिनों में ही मिली पहली जीत है। इससे पहले भारत ने कभी भी टेस्ट में दो दिनों में जीत हासिल नहीं की थी।
दूसरी पारी में अफगानिस्तान के लिए हसमातुल्लाह ने सबसे ज्यादा 36 रन बनाए। वह 88 गेंदों में छह चौके लगाकर नाबाद लौटे। कप्तान असगर स्टानिकजई ने 25 रन बनाए।
दूसरी पारी में भारत के लिए रवींद्र जडेजा ने चार विकेट लिए। उमेश यादव को तीन और ईशांत शर्मा को दो सफलता मिली। रविचंद्रन अश्विन के हिस्से एक विकेट आया।
आपको बता दें कि टीम इंडिया को टेस्ट में अब तक की ऐतिहासिक जीत बताई जा रही है। इससे पहले 1998 में भारत ने कोलकाता के ईडन गार्डन में ऑस्ट्रेलिया को 219 रनों से हराया था। उस दौरान टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई यह ताबड़तोड़ पारी थी। इसके बाद 2007 में भारत ने बांग्लादेश को 239 रनों से रौंदा और 2017 में श्रीलंका को 239 रनों से करारी शिकस्त दी। शुक्रवार को बंगलुरू में हुए टेस्ट मैच में भारत ने अफगानिस्तान को 262 रनों से हराया। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में टीम इंडिया द्वारा खेली गई 5 इंनिग्स में से 4 इनिंग्स भारत में ही खेली गई। जबकि 2007 में भारत बनाम बांग्लादेश का टेस्ट मैच मीरपुर में खेला गया। यहां पर भी भारत के खिलाड़ियों का बल्ला चला और उन्होंने बांग्लादेश को 239 रनों से हराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *