पलूस-कडेगाव उपचुनाव: शिवसेना ने कांग्रेस को दिया समर्थन

महाराष्‍ट्र में शिवसेना ने भारतीय जनता पार्टी को झटका देते हुए आगामी पलूस-कडेगाव उपचुनाव में कांग्रेस उम्‍मीदवार को समर्थन की घोषणा की। सांगली जिले की इस सीट पर 28 मई को मतदान होना है। यहां से कांग्रेस के विश्‍वजीत कदम के खिलाफ बीजेपी के संग्रामसिंह देशमुख चुनाव लड़ रहे हैं। पलूस-कडेगाव सीट 9 मार्च को विश्‍वजीत के पिता और वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता पतंगराव कदम के निधन से खाली हुई थी। शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि पार्टी ने पतंगराव को श्रद्धांजलि के रूप में विश्‍वजीत कदम को समर्थन दिया है। एक बयान में राउत ने कहा, ”पतंगराव (कदम) सहकारिता, समाज और शिक्षा के क्षेत्र में बड़े नेता थे। यह सब देखकर, सेना की यह इच्‍छा थी कि चुनाव (पलूस-कडेगाव उपचुनाव) बिना किसी विरोध के होते, जो कि दुर्भाग्‍य से नहीं हो सका।”
राउत ने कहा, ”सेना अध्‍यक्ष उद्धव ठाकरे ने विश्‍वजीत कदम को पूरा समर्थन दिया है।” सेना के इस फैसले पर भाजपा भड़क उठी है। बीजेपी नता राम कदम ने एएनआई से कहा, “अपने नाखून काटो और खुद को शहीद बता दो, यह शिव सेना की सोच है। पलूस-कडेगाव उपचुनाव में कांग्रेस का समर्थन करना उनका दोगलापन दिखाता है।”
बीजेपी उम्‍मीदवार देशमुख सांगली जिला परिषद के अध्‍यक्ष हैं और जिला सहकारिता बैंक के डिप्‍टी चेयरमैन भी हैं। वह पूर्व विधायक संपतराव देशमुख के पुत्र हैं और बीजेपी सांगली जिलाध्‍यक्ष पृथ्‍वीराज देशमुख के भांजे हैं।
पिछले कुछ दिनों में यह शिवसेना ने दूसरी बार भाजपा को झटका दिया है। हाल ही में पालघर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के लिए शिवसेना ने भाजपा के खिलाफ अपना उम्‍मीदवार उतारा है। शिवसेना ने इस सीट से सांसद रहे चिंतामन वंगा के निधन के बाद उनके बेटे श्रीनिवास वंगा को उम्‍मीदवार घोषित किया। जबकि इससे पहले भाजपा कांग्रेस छोड़ पार्टी में आए राजेंद्र गवित को प्रत्‍याशी बना चुकी थी। आदिवासी-बहुत पालघर सीट पर 2014 में भाजपा जीती थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *