कश्‍मीर में पकड़े गए लश्‍कर आतंकी ने अदा किया भारतीय सेना का शुक्रिया

जम्मू-कश्‍मीर में पकड़े गए पाकिस्तानी आतंकी ने भारतीय सेना का शुक्रिया अदा किया है। लश्‍कर-ए-तैयबा के आतंकी ऐजाज अहमद गुजरी ने कबूला है, “मैं आज भारतीय सेना के कारण जिंदा हूं। जवानों पर फायरिंग करने के बाद भी उन्होंने जवाब में गोलियां नहीं चलाई थीं। वे चाहते तो मुझे गोली मार सकते थे। लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।” आंतकी ने इसी के साथ पाकिस्तान की काली करतूतों का काला चिट्ठा खोला। यही नहीं, उसने आतंक के रास्ते पर भटके अपने अन्य साथियों से वापस मुल्क लौटने की अपील की।

आपको बता दें कि सुरक्षाबलों ने ऐजाज को दो अन्य आतंकियों के साथ बारामुला से गिरफ्तार किया था। बुधवार को श्रीनगर में इन आतंकियों को मीडिया के सामने पेश किया था। ऐजान ने उसी दौरान माना था, “मैं भारतीय सेना की वजह से जिंदा बचा हूं। एनकाउंट के बीच भारतीय सेना ने फायरिंग रोक दी थी। जवान चाहते तो मुझे गोली मार सकते थे। लेकिन उन्होंने गोली नहीं चलाई, जबकि उस दौरान मैंने उन पर फायरिंग की थी।”

जामिया निवासी ऐजाज ने इसी के साथ अपने साथियों से आतंक की राह छोड़ने की अपील की। कहा, “मैं चाहता हूं मेरे अन्य साथी ये रास्ता छोड़कर घर लौट आएं। हम छह महीने से जंगल में रह रहे थे। जिस दिन हमारा भारतीय फौज से सामना हुआ था, उस दिन उन्होंने मुझे गिरफ्तार किया था। उन्होंने मुझे नई जिंदगी दी।

बकौल ऐजाज, “पाकिस्तान में बैठे हमारे आका कहते थे कि इंडिया की फौज ऐसी है, वैसी है। लेकिन आप खुद आकर देखिए। बात कर के देखें तो पता लगेगा कि हमारे खिलाफ साजिश की जाती है। वे हमें मौत के मुंह में झोकने का प्रयास करते हैं।”

ऐजाज के कबूलनामे से जुड़ी वीडियो क्लिप कई टीवी न्यूज चैनलों पर आने के बाद सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगी। दो मिनट की क्लिप में उसने बताया कि आखिर कैसे युवाओं को भारत और यहां की सेना के खिलाफ बहकाया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *