दहेज की खातिर और बेटियाँ होने के कारण बली चढ़ी एक और विवाहिता

मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना से संजीव कुमार बंसल की रिपोर्ट

हिंदुस्तान भारती नेटवर्क न्यूज़ चैनल को भारत के सभी राज्यों में स्टेट हेड की आवश्यकता है इच्छुक व्यक्ति अपना रिज्यूमे WhatsApp करें 9719 61

73 26

                         मुज़फ्फरनगर के कस्बा बुढाना निवासी स्वर्गीय सुरेशचंद की बेटी मेघा का विवाह लगभग 4 वर्ष पूर्व शामली के जवाहरगंज मंडी निवासी अमर पुत्र सुशील के साथ बड़ी धूमधाम के साथ हुआ था।शादी के बाद से अमर के द्वारा दहेज के रूप में अतिरिक्त धन के रूप में मांग की गई जो कि मेघा के भाई पंकज के द्वारा पूरी की गई।शादी के बाद प्रथम सन्तान के रूप में बेटी पैदा हो गई, बेटी के होने पर मेघा के साथ मारपीट के गई और ससुराल वालों से पांच लाख की मांग की,बहन के मोह में भाई द्वारा पांच लाख दे दिए गए।परंतु उनके द्वारा मेघा का उत्पीड़न कम नही हुआ। लगभग 15 दिन पूर्व मेघा को बड़े ऑपरेशन द्वारा दूसरी बेटी पैदा हो गई।बेटी को देखकर पति अमर का पारा सातवे आसमान पर पहुँच गया और पति- अमर,ससुर-सुशील,सास-रेखा,नंद-पूजा ने मेघा के साथ मारपीट की।मेघा के भाई को जानकारी होने पर उन्होंने माफी मांग ली परंतु दो दिन बाद ही पति ,सास,ससुर,नंद,ने मिलकर उसको मकान की तीसरी मंजिल से नीचे फेंक दिया,जिसकी मौके पर ही मौत हो गई,फिर नाटकीय ढंग से शामली के डॉ बोहरा के यहाँ गाड़ी में मृतका को ले जाकर पैर पर प्लास्टर चढ़वा दिया उसके बाद ऑल इंडिया हॉस्पिटल दिल्ली ले जाकर अपने रिश्ते के भाई जो वहां पर MD है उसके पास ले जाकर छोड़कर फरार हो गये। खबर मिलने पर लड़की के परिवार वाले जब शामली पहुंचे तो उनको ये जानकारी प्राप्त हुई। परिवार वालो का रो रो कर बुरा हाल, पंकज के द्वारा शामली कोतवाली पर उक्त चारो के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई गई एम्स से पोस्टमार्टम करवाकर लेकर आने पर शामली में ही परिवार के लोगो द्वारा अंतिम संस्कार किया गया।अब देखना ये है कि मोदी और योगी सरकार का बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना में इन दोनों मासूम का क्या कसूर है जो उनसे उनकी माँ को उनके क्रूर  परिवार वालो ने ही उनसे छीन लिया और उन परिवार वालो का क्या जिन्होंने बेटी को पाल पोसकर बड़ा किया शादी की उसको खुश रखने के लिए हर संभव मदद भी की। पुलिस अधीक्षक द्वारा जानकारी दी गई कि कार्यवाही चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *